आपकी ऑनलाइन लेनदेन को सुरक्षित बनाने के लिए 5 टिप्स

यश जैनCyber SecurityLeave a Comment

आपकी ऑनलाइन लेनदेन को सुरक्षित बनाने के लिए 5 टिप्स

इंटरनेट पर खतरे तो बहुत सारी जगह पर हैं, लेकिन सबसे ज्यादा खतरनाक है आपकी ऑनलाइन लेनदेन की असुरक्षा। साइबर दुनिया में अपराधी लगातार कोशिश करते रहते है की वो आपके एटीएम कार्ड या इंटरनेट बैंकिंग से जुडी हुई गोपनीय जानकारी तक पहुँच जाए। साइबर अपराध से बचने के लिए जरुरी है कि ऑनलाइन लेनदेन करते हुए आप सतर्क रहें। ऑनलाइन लेनदेन करते हुए आपको निम्नलिखित पाँच बातों का ध्यान रखना चाहिए –

1. एड्रेस बार में सुरक्षित लॉक

आपके एड्रेस बार में एक पैडलॉक (ताला) दिखाता है कि साइट पर होने वाला डाटा का आदान-प्रदान एन्क्रिप्टेड है, और इसलिए, हमलें होने की संभावना कम है। इसलिए जब भी आपको ऐसा कोई ताला दिखाई दे, निश्चिंत रहें कि आप एक सुरक्षित जगह पर हैं। लेकिन केवल यही संकेत ऐसा नहीं है जिस पर आपको भरोसा करना चाहिए।

2. HTTPS स्टेटस

HTTP2 के आने से, HTTPS पुराना हो गया है, लेकिन अभी भी बहुत सारी साइटें हैं जो HTTPS पर निर्भर हैं। HTTPS में “s” का अर्थ है “secure”, इसलिए जब भी आप किसी पेमेंट पोर्टल पर जाएं तो एड्रेस बार में HTTPS देखें। ऐसी किसी भी वेबसाइट पर जहाँ सिर्फ HTTP है, वहां पर पेमेंट ना करें।

3. बैक और रिफ्रेश बटन से सावधान

बैक और रिफ्रेश बटन दबाना आपको भारी पड़ सकता है। ऐसा कभी-कभी होता है कि पेमेंट पूरा नहीं होता है और हम back बटन दबा देते हैं। ऐसी स्थिति में बहुत बार हमारे अकाउंट से पैसे कट जाते है। ऐसी कई वेबसाइट है जो आपको back बटन नहीं दबाने की चेतावनी देती है लेकिन कुछ वेबसाइट है जो ऐसा नहीं करती। भले ही अगर वह वेबसाइट कुछ समय ले रही है लेकिन आपको बैक और रिफ्रेश बटन दबाने की जल्दी नहीं करना चाहिए।

4. कुकीज़ को बाद में डिलीट करना

बिना कुकीज़ के आप लेनदेन पूरा नहीं कर सकते। लेकिन जब आप का लेनदेन पूरा हो जाए और खासकर किसी पब्लिक नेटवर्क पर, ऐसी स्थिति में कुकीज़ को डिलीट करना बेहतर है। इस तरह से आप बिना अपनी सुरक्षा से समझौता करें ऑनलाइन शोपिंग कर सकते है।

5. वर्चुअल कीबोर्ड का इस्तेमाल

आपके कार्ड या नेट बैंकिंग की जानकारी दर्ज करते वक्त हमेशा वर्चुअल कीबोर्ड का इस्तेमाल करें। कई वेबसाइट टेक्स्ट बॉक्स के साथ-साथ वर्चुअल कीबोर्ड भी प्रदान करती है। हमेशा ऐसी संवेदनशील जानकारी को ऑनस्क्रीन कीबोर्ड से दर्ज करें क्योंकि स्पाइवेयर के द्वारा आपके कार्ड का सीवीवी नंबर/पासवर्ड को रिकॉर्ड कर हैकर को भेजा जा सकता है। अगर वेबसाइट पर वर्चुअल कीबोर्ड नहीं है तो आप अपने लैपटॉप/कंप्यूटर पर उपलब्ध वर्चुअल कीबोर्ड भी इस्तेमाल कर सकते है।


इस लेख को अंग्रेज़ी में पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें। | To read this article in English, click here.

Featured Image Credits: Electronic payment photo created by katemangostar – www.freepik.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.